Wednesday, June 19, 2024
HomeStoryThirsty Crow Story in Hindi प्यासे कौवे की कहानी हिंदी में

Thirsty Crow Story in Hindi प्यासे कौवे की कहानी हिंदी में

Thirsty Crow Story in Hindi – क्या आप प्यासे कौवे की कहानी और उसकी प्यास बुझाने के अनोखे उपाय से परिचित हैं? अगर नहीं तो चलिए हम आपको बताते है कि कौवे की कहानी हिंदी में (Thirsty Crow Story in Hindi) जिसमे आप जानेंगे कि कैसे कौवे ने अपनी प्यास भुझायी और उसने यह उपलब्धि कैसे हासिल की? यह प्यासे कौवे की कहानी (Pyasa Kauwa Ki Kahani) एक मूल्यवान सीख देती है जिसे हम सभी को अपने जीवन में शामिल करना चाहिए। Read thirsty crow story in Hindi language (Pyasa kauwa ki kahani). Kids really enjoy this story.

Thirsty Crow Story in Hindi

Thirsty Crow Story in Hindi

चिलचिलाती गर्मी के दिन में एक प्यासा कौआ पानी की तलाश में निकला। वह आकाश में उड़ता रहा, ऊँचे और नीचे खोजता रहा। अचानक उसकी तेज़ नज़रों की नज़र एक घड़े पर पड़ी। कौवा उत्सुकता से जांच करने के लिए नीचे उतर आया। हालाँकि, जैसे ही वह घड़े के पास पहुँचा, उसने पाया कि नीचे केवल थोड़ी मात्रा में पानी बचा था। कौआ बार-बार अपनी चोंच से पानी तक पहुंचने की कोशिश करता रहा, लेकिन घड़े की गहराई उसके लिए बहुत बड़ी चुनौती साबित हुई। हताश और निराश कौवे ने सोचा, “मैं इस स्थिति में अपनी प्यास कैसे बुझा सकता हूँ?”

विपरीत परिस्थितियों के बावजूद, चतुर कौवे की साधनशीलता बचाव में आई। इसने पास में कंकड़-पत्थरों का एक संग्रह देखा और एक योजना बनाई। कौए ने निश्चय करके अपनी चोंच से कंकड़ उठाए और एक-एक करके घड़े में डाल दिए। धीरे-धीरे पानी का स्तर इतना बढ़ने लगा कि वह ऊपर तक पहुँच गया। जी भरकर ठंडा पानी पीकर कौआ बहुत खुश हुआ। सफलतापूर्वक अपनी प्यास बुझाने के बाद, कौआ संतुष्ट और तृप्त होकर उड़ गया।

आपको प्यासे कौवे की कहानी हिंदी में (Pyasa kauwa ki kahani / Thirsty crow story in Hindi) किसी लगी। हमे जरूर बताएं।

Also Read: Rabbit And Tortoise Story in Hindi

Like our Facebook page and follow our Instagram account.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments