Wednesday, June 19, 2024
HomeLetterLetter to Bhabhi in Hindi भाभी को पत्र हिंदी में

Letter to Bhabhi in Hindi भाभी को पत्र हिंदी में

भाभी जी को पत्र हिंदी में – Write a letter to Bhabhi in Hindi language with format for students of class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 and 12.

Letter to Bhabhi in Hindi भाभी को पत्र हिंदी में

Letter to Bhabhi in Hindi

Letter 1 – कठिन समय में सहायता के लिए धन्यवाद देते हुए नानद द्वारा भाभी को हिन्दी में पत्र लिखिए। Write a letter to Bhabhi in Hindi by Nanad, thanking her for her help in difficult times.

15, जनकपुर कॉलोनी,
दिनांक…

श्रीमती भाभीजी,
सादर नमस्ते।

ईश्वर करे तुम खुश रहो, सदा फूलो-फलो, तुम्हारा सुहाग अचल हो। प्रिय मोहन आपकी भेजी हुई पत्रानुसार सब चीजें लेकर आ गया है।
भाभीजी ! अगर आपने रुपए न भेजे होते तो मोहनजी के फूफाजी अवश्य कारागार भेज दिए जाते; क्योंकि अठारह सौ रुपए सरकारी थे, जो चोरी में चले गए थे और रुपए जमा करने की तारीख 8 फरवरी थी, जो आज ही है। यह पैसे अगर तुम सहायता न करती तो पता नहीं हमारा क्या होता। हम किसी को मुँह दिखाने लायक न रहते। तुम्हे पता ही है की सारा जेवर चोरी हो गया था; इसलिए रुपयों को जमा करने का कोई प्रबंध न था। मैं आपकी इस सामयिक सहायता, उदारता तथा सहानुभूति का कोई बदला नहीं दे सकती। ईश्वर से केवल यही प्रार्थना करती रहूँगी कि वह मेरे भाई-भतीजों को सदैव धन-धान्य, धैर्य और प्रतिष्ठा से परिपूर्ण रखे।

भाई साहब को नमस्ते । मोहनजी को 10 दिन के लिए रोक लिया है।

आपकी प्रिय ननद
हंसिका

Letter 2 – परीक्षा परिणाम की सूचना देने और पुस्तकों आदि के लिए धन की माँग करते हुए भाभी को पत्र लिखिए। Write a letter to bhabhi ji to inform about the result of the examination and asking for money to buy books in Hindi.

5/12, पुराणी मंडी,
दिल्ली
6.8.2002

पूज्य भाभी जी,

सादर। आपको यह जानकर खुशी होगी कि कल मेरी 8वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित हो गया है और मेरा नाम उत्तीर्ण छात्रों में है। विषयवार अंक-विवरण अभी प्राप्त नहीं हुआ है, इसलिए मैं आपको पूरी जानकारी नहीं दे सकता। लेकिन मैं अपने स्कूल और कक्षा में पूर्ण अंक-योग के मामले में पांचवें स्थान पर हूं। इससे पहले मैं दसवें स्थान पर था। इस बार मैं आपके मार्गदर्शन से बहुत ऊपर उठ सका हूँ। मेरे माता-पिता भी मेरे परिणाम से बहुत खुश होंगे। छोटी बहन सोनिया भी अच्छे अंकों से पास हुई है।

मेने पहले पिताजी को पत्र लिखा था लेकिन उनका अभी तक कोई जवाब नहीं आया इसलिए अब मैं यह पत्र आपको लिख रहा हूँ। भैया भाभी आप मेरा यह सन्देश माता पिता तक पहुंचा देना कि अब मैं नौवीं कक्षा में प्रवेश कर चुका हूँ। इसलिए मुझे नई किताबें खरीदनी पड़ेंगी। सभी विषयों की अभ्यास पुस्तिकाएं भी लेनी होंगी। सोनिया के लिए भी किताबें और पर्चे लेने पड़ते हैं। अतः कृपया जल्द से जल्द तीन हज़ार रुपये भेजने की व्यवस्था करें, ताकि हम किताबें और व्यायाम-पुस्तकें आदि लेकर पढ़ाई शुरू कर सकें। आशा है आप इस मामले में शीघ्रता करेंगे। माँ और पिताजी से आशीर्वाद। जवाब का इंतज़ार कर रहे है।

आपका
प्यारेलाल

Like our Facebook page and follow our Instagram account.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments