Tuesday, February 27, 2024
HomeBiographySonu Sood Biography in Hindi – सोनू सूद का जीवन परिचय

Sonu Sood Biography in Hindi – सोनू सूद का जीवन परिचय

आज हम बात करने वाले हैं इंडियन एक्टर, मॉडल और प्रड्यूसर सोनू सूद (Sonu Sood) के बारे में। तो चलिए बिना किसी देरी के शुरू करते है। Read all information about Sonu Sood in Hindi.

Sonu Sood Biography in Hindi – सोनू सूद का जीवन परिचय

सोनू सूद हिंदी, तेलुगु, कन्नड़ और तमिल फिल्मों में अभिनय करते हैं। सितंबर 2020 में सोनू को कोविड 19 महामारी के दौरान उनके मानवीय कार्यो के लिए संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम द्वारा प्रतिष्ठित एसडीजी स्पेशल ह्यूमैनिटेरियन एक्शन अवार्ड (SDG Special Humanitarian Action Award) के लिए चुना गया। फिल्मो में गुंडों के रोल करते है पर real life में hero से कम नहीं है। सोनू सूद ने कोविड 19 महामारी के दौरान लोगो की बहुत मदद की।

सोनू सूद की Early Life – बात करते हैं सोनू सूद की अर्ली लाइफ के बारे में तो सोनू सूद का जन्म 30 जुलाई 1973 को पंजाब के मोगा में हुआ। सोनू की शुरुआती पढ़ाई सैक्रेड हार्ट स्कूल, मोगा (Sacred Heart School, Moga) से हुई। इसके बाद यशवंतराय चवन कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग नागपुर (Yeshwantrao Chavan College of Engineering (YCCE), Nagpur) से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। सोनू सूद के परिवार की बात करें तो सोनू के पिता शक्ति सागर खुद पेशे से इंटरप्रेन्योर (entrepreneur) है और मां सरोज पेशे से शिक्षक है। सोनू सूद ने 1996 में सोनाली से शादी की। सोनाली एक तेलुगु महिला है जो आंध्र प्रदेश की रहने वाली है। इनके दो बेटे हैं जिनका नाम अयान और इशांत है।

सोनू सूद का फिल्मी कैरियर – सोनू सूद के फिल्मी कैरियर की बात की जाए तो सोनू का कैरियर बहुत ही संघर्ष भरा रहा। सोनू सूद जब कॉलेज के दूसरे साल में थे तब से ही मॉडलिंग और एक्टिंग में जाना चाहते थे। ग्रेजुएशन के बाद सोनू काम की तलाश में मुंबई आ गए। सोनू जब मुंबई आए थे तो उनके पास सिर्फ 5500 रुपए थे लेकिन रोज के खर्चों को पूरा करने के लिए उन्होंने 4500 ₹ महीने की सैलरी में साउथ मुंबई की प्राइवेट कंपनी में जॉब क। सोनू के पहले मॉडलिंग असाइनमेंट से उन्हें 501 ₹ मिले जिससे उन्होंने एक जीन्स खरीदी।

एक्टर बनने से पहले सोनू सूद ग्रासिम मिस्टर इंडिया कॉन्टेस्ट (Grasim Mr. India Contest) में शीर्ष पांच स्थान में पहुंचे। सोनू ने 1999 में तमिल फिल्म कल्लाजहागार (Kallazhagar) में डेब्यू किया। 2002 में शहीद ई आजम (Shaheed-E-Azam) फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया। सोनू ने कई पॉपुलर बॉलीवुड फिल्मे जैसे आशिक बनाया आपने, दबंग, हैप्पी न्यू ईयर, गब्बर इस बैक और सिंबा में काम किया। सोनू ने एक चाइनीस फिल्म में भी काम किया है। सोनू अपनी फिटनेस को लेकर काफी कॉन्शियस हैं। वह रोज़ाना जिम जाते हैं।

COVID-19 महामारी के दौरान सामाजिक कार्य – सोनू सूद ने कोविड 19 महामारी के दौरान पूरे देश में हजारों प्रवासी कर्मचारीयो को घर पहुंचने में काफी मदद की। सोनू ने एक इंटरव्यू में कहा जब मैंने सैकड़ों लोगों की अपने घर पहुंचने के लिए पैदल जाते हुए देखा तो मुझे रात को नींद नहीं आई। कोविड 19 महामारी में प्रवासी कर्मचारी की मदद करने पर तेलंगना में सोनू सूद का मंदिर भी बनाया गया। जुलाई 2020 में उन्होंने 1500 से ज्यादा छात्रों को किर्गिस्तान में फंसे 1,500 से अधिक भारतीय छात्रों को बिश्केक से वाराणसी के लिए एक चार्टर्ड उड़ान की व्यवस्था भी की। महामारी के दौरान उनकी सहायता की पूरे विश्व में सराहना की गई और उन्हें भारत में एक real life hero के रूप में देखा गया।

इसके इलावा 25 जुलाई 2020 को एक किसान की बेटियों के खेत की जुताई करने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुआ। सोनू तक वीडियो पहुंचते ही उन्होंने इस परिवार को ट्रेक्टर भेज दिया। 5 अगस्त 2020 को उन्होंने मुख्य रूप से तमिलनाडु के 101 मेडिकल छात्रों की मदद की, जो लॉकडाउन के दौरान मास्को में फंसे हुए थे। उनकी मदद के लिए अपनी टीम से संपर्क करने के बाद उनके द्वारा की गई चार्टर्ड फ्लाइट से सुरक्षित भारत के चेन्नई पहुंचे। सोनू ने जरूरतमंदों की मदद करने के लिए सूद चैरिटी फाउंडेशन (Sood Charity Foundation) की स्थापना की।

वर्ष 2021 में सोनू सूद ने COVID-19 रोगियों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर प्रदान किए। सोनू सूद अच्छे कामो में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते है। सोनू सूद और कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने हास्य कवि और व्यंग्यकार पंकज प्रसून (Pankaj Prasun) द्वारा शुरू किए गए आओ गांव बचाएं “गांव बचाओ” अभियान का समर्थन भी किया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments